राजनीति

जाति की राजनीति के पैर जमाने की कोशिश फिर शुरू

इस लोकसभा चुनाव के परिणामों ने बहुत कुछ साबित किया है। और साबित ये भी हो गया है कि नरेंद्र मोदी की राजनीति ने देश में धर्म और जाति की राजनीति का शीर्षासन करा दिया है। एक पिछड़े व्यक्ति को संघ ने प्रचारक बनाया और संघ के प्रचारक के तौर Read more…

By Harsh, ago
राजनीति

भारतीय राजनीति के ये शुभ संकेत हैं

नरेंद्र मोदी की जीत मे सारे समीकरण ध्वस्त कर दिए हैं। सारे विश्लेषण भी। और जमे-जमाए प्रतीक भी मिटा दिए हैं। क्रांति के अग्रदूत अरविंद केजरीवाल नौटंकी सम्राट हो गए हैं। भारतीय चुनावी विश्लेषक और फिर आम आदमी पार्टी के नेता के तौर पर देश के सौम्य चेहरों में से Read more…

By Harsh, ago
राजनीति

ढेर सारी जीतों को पिरोकर नरेंद्र मोदी ने भारत जीता है

नरेंद्र मोदी की इस जीत ने ढेर सारे प्रतिमान बनाए हैं, ध्वस्त किए हैं। और ये सिर्फ नरेंद्र मोदी ही कर सकते थे। सब चौंक रहे हैं, चिंहुक रहे हैं। मुझे भी उत्तर प्रदेश में 50 सीटें और पूरे देश में बीजेपी को 240 सीटों से ज्यादा मिलने का अंदाजा Read more…

By Harsh, ago
राजनीति

प्रधानमंत्री पद के लिए नरेंद्र मोदी मेरी पहली पसंद क्यों हैं?

हमारी भारतीय राजनीति अद्भुत है कि यहां नेताओं के बड़ा या छोटा होने की कल्पना कभी भी उसके काम के आधार पर नहीं की जाती। यहां सिर्फ भावनाओं के आधार पर नेता छोटा या बड़ा हो जाता है। उसने क्या किया, कितना किया। इसकी चर्चा बड़ी कम होती है। अकसर Read more…

By Harsh, ago
राजनीति

मोदी पीएम बने तो सरकार कौन चलाएगा?

राजनीति में भावनाएं बड़ी महत्वपूर्ण होती हैं। और इस चुनाव की भावना ये है कि देश भ्रष्टाचार से ऊबा है। इस चुनाव की भावना ये है कि देश में कारोबारी होने का मतलब गलत तरीके से कमाई करने वाला हो गया है। इस चुनाव की भावना ये भी है कि Read more…

By Harsh, ago
राजनीति

तरक्की का दस्तावेज है भाजपा घोषणापत्र

भारत गांवों का देश है। और ये बात हम भारतीयों के दिमाग में ऐसे भर गई है कि अगर कोई गलती से भी शहर की बात करने लगे तो लगता है कि ये भारत बिगाड़ने की बात कर रहा है। लेकिन, उसी का दूसरा पहलू ये है कि शायद ही Read more…

By Harsh, ago
राजनीति

गैस की कीमत और चुनाव का गणित

भारतीय राजनीति के इतिहास में शायद ये पहली बार हो रहा है कि उद्योगपतियों से संबंध चुनावी मुद्दा बना हो। और इस कदर बन गया हो कि उद्योगपतियों से रिश्ते का मतलब ही चुनावी गणित को बिगाड़ने वाला दिखने लगा हो। और ये कर दिया है भारतीय राजनीति में चमत्कारिक Read more…

By Harsh, ago
राजनीति

बढ़ती भीड़, बढ़ता भाजपा का संकट!

सात लाख अस्सी हजार। मेरठ में रैली खत्म होने के बाद भारतीय जनता पार्टी उत्तर प्रदेश के मीडिया प्रभारी मनीष शुक्ला पत्रकारों को बता रहे थे कि जिस मैदान में नरेंद्र मोदी की रैली हुई। उसकी क्षमता सात लाख अस्सी हजार की थी। जाहिर है सारे पत्रकार मुस्कुरा रहे थे। Read more…

By Harsh, ago
राजनीति

सीधे राहुल के दिल से लाइव

तालकटोरा स्टेडियम में राहुल गांधी आज सुबह से देश में बड़ी बेचैनी थी। बेचैनी इस बात की नहीं थी कि  राहुल गांधी प्रधानमंत्री पद के दावेदार बनेंगे या नहीं। बेचैनी इस बात को लेकर थी कि क्या-क्या नौटंकी होगी तालकटोरा स्टेडियम में। जिस तरह से कल से देश को ये Read more…

By Harsh, ago