बतंगड़ ब्लॉग

गुजरात चुनाव में ये कमाल भी हुआ है !

टेलीविजन चैनलों को देखकर यही लगेगा कि गुजरात चुनावों में सिर्फ और सिर्फ गन्दगी ही फैल रही है। सब नेता एक दूसरे को गाली दे रहे हैं, आरोप लगा रहे हैं। लेकिन, गुजरात चुनाव के प्रचार में एक कमाल भी हुआ है और ये सकारात्मक है।

By Harsh, ago
बतंगड़ ब्लॉग

गुजरात चुनाव के मुद्दे

क्या 2017 के विधानसभा चुनाव में जाति ने दूसरे सभी मुद्दों को पीछे छोड़ दिया है या फिर धर्म भी मुद्दा बना है। और, सबसे बड़ी बात कि, क्या गुजराती विकास पर वोट करेगा या नहीं।

By Harsh, ago
बतंगड़ ब्लॉग

गांधी जी का नवजीवन प्रेस और संजय बेंगानी के साथ भाखरी पिज्जा

गुजरात की यात्रा पूरी तरह से चुनावी यात्रा थी। लेकिन, अहमदाबाद में कुछेक लोग ही हैं, जिनसे न मिलना अनर्थ हो जाता। मैं जब अहमदाबाद एयरपोर्ट पहुंचा तो, संजय बेंगानी अहमदाबाद से अपने पैतृक गांव के रास्ते में थे। उन्होंने कहा- न मिलना महापाप हो जाएगा। उसके बाद उन्होंने जो Read more…

By Harsh, ago
बतंगड़ ब्लॉग

गुजरात की समृद्धि का संकट !

गुजरात की समृद्धि अब वहां का संकट बनती जा रही है। गुजराती कितने समृद्ध हैं, इसका अहसास अलगग-अलग खबरों से होता रहता है। लेकिन, गुजरात चुनाव रिपोर्ट करते वहां के एक रियल एस्टेट प्रोजेक्ट से मुझे अलग तरह की ही समृद्धि दिखाई दी। लेकिन, यह समृद्धि संकट भी है।

By Harsh, ago
बतंगड़ ब्लॉग

अमित शाह के मिशन 150 को पूरा करने में लगे 22 कांग्रेसी

2014 के लोकसभा चुनाव में गुजरात की जनता ने नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री बनाने के लिए, सभी सीटों को, बीजेपी की झोली में डाल दिया था। सभी 26 सीटें जिताकर गुजरात ने नरेंद्र मोदी की दावेदारी पक्की कर दी थी। गुजरात में इसके पहले 1980 में लगभग ऐसा हुआ था Read more…

By Harsh, ago
अखबार में

22 साल के बदलाव को बदलने को तैयार नहीं हैं गुजराती

किसी राज्य में एक पार्टी की सरकार के खिलाफ एक कार्यकाल के बाद ही जिस तरह से सत्ता विरोधी रुझान हो जाता है, उसमें 22 साल से एक ही पार्टी की सरकार के खिलाफ माहौल आसानी से बनता दिख जाता है। गुजरात का चुनावी माहौल कुछ ऐसा ही है। और, Read more…

By Harsh, ago
बतंगड़ ब्लॉग

2017 में साणंद में बीजेपी का स्वागतम् होगा या टाटा ?

नरेंद्र मोदी ने जब टाटा नैनो के लिए 2008 में स्वागतम् कहा था, तब से उद्योगों के लिए गुजरात के मुस्कुराते-स्वागत करते चेहरे के तौर पर सानंद का नाम लिया जाता है. वैसे, पूरे राज्य को उद्योगों के लिहाज से अनुकूल माना जाता है. लेकिन, सानंद में नैनो का आना Read more…

By Harsh, ago
बतंगड़ ब्लॉग

हिन्दुत्व पर नहीं जातियों पर गुजरात चुनाव ?

2017 के गुजरात विधानसभा चुनावों का सबसे सामान्य विश्लेषण यही है कि इस बार चुनाव हिन्दुत्व पर नहीं हो रहा है। बल्कि, हिन्दू जातियों के बीच हो रहा है। मुसलमान एकदम शान्त है। बस इसी आधार पर ज्यादातर विश्लेषण हो रहे हैं। जाति पर हो रहे इस चुनाव को समझने Read more…

By Harsh, ago
बतंगड़ ब्लॉग

रंजीत झाला बता रहे हैं, क्या हो रहा है गुजरात में ?

गुजरात चुनाव हर बार की ही तरह इस बार भी जबरदस्त रोचक हैं। फर्क बस इतना है कि नरेंद्र मोदी मुख्यमंत्री के तौर पर यहां नहीं है। लेकिन, प्रधानमंत्री के तौर पर आ रहे हैं। राहुल गांधी लगभग बन चुके कांग्रेस अध्यक्ष के तौर पर जमे हैं और अमित शाह Read more…

By Harsh, ago
बतंगड़ ब्लॉग

गुजरात का ताजा चुनावी गणित

गुजरात चुनाव पर पूरे देश की नजर है, हमेशा ही रहती है। लेकिन, इस बार कुछ ज्यादा इसलिए है क्योंकि, नरेेंद्र मोदी यहां नहीं हैं। और, इसलिए भी कि, बहुत से लोग बदलाव की उम्मीद से हैं। एक रोचक विश्लेषण मुझे समझ में आया है कि जैसे देश का मुसलमान Read more…

By Harsh, ago