राहुल गांधी का जनेऊधारी होने की बात प्रचारित करना या फिर शिवभक्त होना, यह सब कांग्रेस की गुजरात चुनाव तक की रणनीति है। राहुल के पिता राजीव गांधी ने भभी हिन्दू-मुसलमान दोनों के मतों के लिए कई ऐसे काम किए थे। सवाल बस यही है कि क्या गुजराती हिन्दू राहुल के जनेऊधारी हिन्दू होने पर भरोसा कर रहा है या फिर उसे राहुल गांधी का बाबरी मस्जिद वाला बयान याद रहेगा।