टेलीविजन चैनलों को देखकर यही लगेगा कि गुजरात चुनावों में सिर्फ और सिर्फ गन्दगी ही फैल रही है। सब नेता एक दूसरे को गाली दे रहे हैं, आरोप लगा रहे हैं। लेकिन, गुजरात चुनाव के प्रचार में एक कमाल भी हुआ है और ये सकारात्मक है।