गोरखपुर की घटना हमारी सरकारों की सम्वेदनहीनता को उजागर करती है। प्रदेश के मुख्यमंत्री के घर के सरकारी अस्पताल में ये दर्दनाक गैरइरादतन हत्या हुई है। और ये हत्या नियमित तौर पर हो रही है। जिस अस्पताल का ये मामला है, वहां हर रोज बच्चे मर रहे हैं। एक साथ इतने बच्चे मरे, तो मीडिया जाग गई। लेकिन, सरकार अभी भी बहानेबाजी पर लगी हुई है।