PMEAC की पहली बैठके के बाद रोजगार के आंकड़ों पर आर्थिक सलाहकार परिषद के चेयरमैन बिबेक देबरॉय ने कहाकि हमारे पास अभी रोजगार का कोई पक्का आंकड़ा नहीं है। सच्चाई यही है कि सिर्फ रोजगार ही नहीं, दूसरे मामलों में भी आंकड़ों के मामले में देश में कोई ढंग का तंत्र ही विकसित नहीं हुआ है और यही वजह है कि किसी भी सरकारी योजना को सही परिणति तक नहीं पहुंचाया जा पाता।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

राजनीति

कांग्रेस की सफलता के लिए जरूरी सूत्र

कांग्रेस गुरदासपुर लोकसभा सीट की जीत और नांदेड़ नगर पालिका की जीत से बहुत उत्साहित है, होना भी चाहिए। लेकिन, इन दोनों चुनावों की जीत का असल सूत्र समझकर उसे लागू करने पर ही कांग्रेस Read more…

बतंगड़ ब्लॉग

नरेंद्र मोदी को जेल भेजने की साजिश !

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को गुजरात में हुई सभा में जो कुछ कहा है, उसका एक-एक शब्द दरअसल चुनावी मुद्दों को अपने हिसाब से तय करने की कोशिश है और उसमें 2 सबसे मारक Read more…

बतंगड़ ब्लॉग

हर खाते में 15 लाख और विकास के पागल होने की कहानी

नरेंद्र मोदी के साथ 15 लाख रुपए वाला जुमला ऐसा चिपक गया है कि बार-बार इस पर बात होती है। अब राहुल गांधी ने गुजरात में जाकर विकास को ही पागल कर दिया है। इन Read more…