बतंगड़ ब्लॉग

कांग्रेस पार्टी के बारे में सबसे बड़ा झूठ/भ्रम

पहले एक भ्रम ये भारतीय जनमानस में भर दिया गया कि कांग्रेस अकेली पार्टी है, जिसने भारत की आजादी की लड़ाई लड़ी। धीरे-धीरे वो भ्रम टूटने लगा, तो उससे भी सशक्त भ्रम तैयार करके भारतीयों को डराने की कोशिश की गई। हालांकि, अब उसी झूठ/भ्रम के जाल में कांग्रेसी कार्यकर्ता Read more…

By Harsh, ago
बतंगड़ ब्लॉग

बेहतरी के लिए कांग्रेस पार्टी को सुझाव

कांग्रेस पार्टी की असली समस्या यही है कि वो किसी की भी सुनने को तैयार नहीं है। अपने कार्यकर्ताओं से लेकर बड़े से बड़े नेताओं तक। यही वजह है कि कांग्रेस अभी भी यह समझ ही नहीं पा रही है कि आखिर उसकी गिरावट की मूल वजह क्या है। राजनीतिक Read more…

By Harsh, ago
बतंगड़ ब्लॉग

चन्डीगढ़ का मामला मिसाल बनेगा ?

चन्डीगढ़ में एक लड़की को छड़ने के मामले में भारतीय जनता पार्टी की हरियाणा इकाई के अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास बराला को बचाने के आरोप लग रहे हैं। दुखद ये है कि ये आरोप उस पुलिस पर लग रहे हैं जिस पुलिस ने आधी रात में उस लड़की Read more…

By Harsh, ago
बतंगड़ ब्लॉग

एक राज्यसभा सीट के लिए क्यों दॉंव पर लगी है प्रतिष्ठा ?

गुजरात राज्यसभा की तीसरी सीट का चुनाव सिर्फ एक सीट का चुनाव नहीं है। राजनीतिक विश्लेषक हर्षवर्धन त्रिपाठी बता रहे हैं कि अहमद पटेल की राज्यसभा सीट अमित शाह के लिए क्यों इतनी महत्वपूर्ण हो गई है।

By Harsh, ago
बतंगड़ ब्लॉग

राजनीतिक फायदे के लिए भी भ्रष्टाचारियों पर कार्रवाई उचित

कर्नाटक के एक मंत्री के घर और दूसरे ठिकानों पर आईटी के छापे से देश में एक बड़ा सवाल खड़ा हो गया है। वो सवाल ये है कि क्या कांग्रेस मुक्त भारत के सपने को पूरा करने के लिए मोदी-शाह की जोड़ी राजनीतिक विरोधियों के खिलाफ केन्द्रीय एजेन्सियों का इस्तेमाल Read more…

By Harsh, ago
बतंगड़ ब्लॉग

अबू दुजाना के मारे जाने के निहितार्थ

कश्मीर घाटी में सक्रिय एक और कुख्यात आतंकवादी अबू दुजाना को भी जम्मू कश्मीर पुलिस, सेना और अर्धसैनिक बलों ने साझा अभियान में मार गिराया। भारतीय खुफिया एजेन्सियां लगातार शानदार तरीके से आतंकवादियों के बारे में सूचनाएं इकट्ठा कर रही हैं। दुजाना के मारे जाने के और क्या निहितार्थ हैं, Read more…

By Harsh, ago
बतंगड़ ब्लॉग

अमित शाह की सम्पत्ति की खबर मीडिया ने क्यों छिपाई?

भारतीय जनता के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की सम्पत्ति की खबर मीडिया ने क्यों छिपाई? छिपाई, तो किसने दबाव डाला। दबाव किसी ने डाला भी या फिर कुछ पत्रकार जो सरकार के पलक झपकने से भी इशारा लेते हैं, उन्होंने स्वत:स्फूर्त ये कारनामा कर डाला। दबाव डाला गया, तो जिसने Read more…

By Harsh, ago
बतंगड़ ब्लॉग

इस बार नीतीश के मुख्यमंत्री बनने को नए नजरिये से देखिए

भारतीय राजनीति में आर्थिक नजरिये को हमेशा बड़ी हेय दृष्टि से देखा जाता रहा है। उसी का परिणाम रहा कि देश के 2 सबसे बड़े राज्य देश के सबसे पिछड़े राज्य बने रहे। बावजूद इसके कि ये दोनों राज्य राजनीतिक तौर पर हमेशा अगुवाई करते रहे। शायद अब नई राजनीति Read more…

By Harsh, ago