कमाल है
इस देश में हर बात के लिए
संघ जिम्मेदार है
कमाल है
कि जिनकी सरकार है
वो भी कहते हैं कि संघ जिम्मेदार है
कमाल है
कि जिनकी नहीं सरकार है
वो भी कहते हैं कि संघ जिम्मेदार है
कमाल है
हिंदुस्तान की पिछली सरकारों के घोषित काबिल
पुरस्कार लौटा रहे हैं
कमाल है
पुरस्कार लौटाकर वो
खुद को और काबिल बताना चाहते हैं
कमाल है
पुरस्कारों की इस घर वापसी के लिए भी
संघ जिम्मेदार है
कमाल है
कि हिंदुत्व की सरकार है
इसलिए ये सारा बवाल है
कमाल है
कि हिंदुत्व की सरकार है
इसलिए पुरस्कार का हो रहा तिरस्कार है
कमाल है
कि वो बता रहे हैं
हर बात चुनाव के फायदे से जुड़ी है
कमाल है
बिना चुनाव लड़े भी
हर चुनावी चकल्लस के लिए संघ ही जिम्मेदार है
कमाल है
जम्मू-कश्मीर में बन गई
पीडीपी-बीजेपी की साझा सरकार है
कमाल है
फिर भी हर अलगाव के लिए
संघ जिम्मेदार है
कमाल है
बिहार में हो रहा चुनाव है
यूपी में हुआ बवाल है
कमाल है
इसके लिए भी
संघ ही जिम्मेदार है
कमाल है
लंबे समय बाद आई
पूर्ण बहुमत की सरकार है
कमाल है
जनता को वो बताते
भ्रमित बार-बार हैं
कमाल है
फिर भी वो सरोकारों के
झंडाबरदार हैं
कमाल है
अब क्या इसके लिए भी
संघ ही जिम्मेदार है
कमाल है

Related Posts

राजनीति

ममता की मुस्लिम राजनीति से मुसलमानों का कितना भला

ममता बनर्जी को पश्चिम बंगाल की जनता लगातार जनादेश दे रही है। लोकतंत्र में सबसे ज्यादा महत्व भी इसी बात का है। लेकिन, जनादेश पाने के बाद सत्ता चलाने वाले नेता का व्यवहार भी लोकतंत्र Read more…

राजनीति

बुद्धिजीवी कौन है?

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के बुद्धिजीवियों को भाजपा विरोधी बताने के बाद ये सवाल चर्चा में आ गया है कि क्या बुद्धिजीवी एक खास विचार के ही हैं। मेरी नजर में बुद्धिजीवी की बड़ी सीधी Read more…

राजनीति

स्वतंत्र पत्रकारों के लिए जगह कहां बची है?

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुद्धिजीवियों पर ये आरोप लगाकर नई बहस छेड़ दी है कि बुद्धिजीवी बीजेपी के खिलाफ हैं। मेरा मानना है कि दरअसल लम्बे समय से पत्रकार और बुद्धिजीवी होने के खांचे Read more…