#BadlaLo is
still trending on twitter @narendramodi @PMOIndia 
इसका
सीधा सा मतलब हुआ कि सब जानने वाली जनता जानती है कि अभी कुछ भी ऐसा नहीं हुआ है।
पूरे १ घंटे से ज़्यादा पाकिस्तानी अख़बार,
टीवी चैनलों को देखने के बाद इतना तो पक्का है कि
अभी कोई ऐसी कार्रवाई नहीं हो सकी है जिसे पाकिस्तान तिलमिलाए। वहाँ का मीडिया अभी
तक यही खबर सबसे ऊपर रखे हुए है कि पाकिस्तान ने भारतीय जवानों के साथ बर्बरता को
ख़ारिज किया है। हमारी भारतीय मीडिया अब उस खबर से आगे बढ़ गई है और बता रही है कि
३ पाकिस्तानी चौकियाँ ध्वस्त की गईं और ७ जवान मारे गए। हालाँकि, ये पाकिस्तानी
मीडिया की रणनीति भी हो सकती है कि वो पाकिस्तानी सैनिकों के मारे जाने की खबर दबा
दें। जिससे भारत में लोगों का ग़ुस्सा सरकार के ख़िलाफ़ बना रहे। सच्चाई का पता
लगाना भारत-पाकिस्तान जैसी स्थिति में टेढ़ी खीर है। लेकिन भारत सरकार से, ख़ासकर मोदी सरकार, भारतीय इतनी तो
उम्मीद रखते ही हैं कि वो ऐसा करे जिससे समझ में आए कि मोदी-मनमोहन में कोई अन्तर
है। सवाल पाकिस्तान के साथ युद्ध करने का नहीं है। हिन्दुस्तान में कोई भी युद्ध
का पक्षधर नहीं है। लेकिन, सवाल है उस भारत की जनता के स्वाभिमान को बचाने का, जिसे मोदी जी
विश्वशक्ति बनाने का सपना दिखाकर प्रचण्ड बहुमत में आए हैं। निगम पार्षद से सांसद
तक सिर्फ मोदी का चेहरा देखकर जनता बना दे रही है। उस जनता के भरोसे का सवाल बड़ा
होता जा रहा है मोदी जी।
Top of Form

Related Posts

राजनीति

बुद्धिजीवी कौन है?

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के बुद्धिजीवियों को भाजपा विरोधी बताने के बाद ये सवाल चर्चा में आ गया है कि क्या बुद्धिजीवी एक खास विचार के ही हैं। मेरी नजर में बुद्धिजीवी की बड़ी सीधी Read more…

राजनीति

स्वतंत्र पत्रकारों के लिए जगह कहां बची है?

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुद्धिजीवियों पर ये आरोप लगाकर नई बहस छेड़ दी है कि बुद्धिजीवी बीजेपी के खिलाफ हैं। मेरा मानना है कि दरअसल लम्बे समय से पत्रकार और बुद्धिजीवी होने के खांचे Read more…

अखबार में

हत्या में सम्मान की राजनीति की उस्ताद कांग्रेस

गौरी लंकेश को कर्नाटक सरकार ने पूरे राजकीय सम्मान के साथ अन्तिम विदाई दी। गौरी लंकेश को राजकीय सम्मान दिया गया और सलामी दी गई। इस तरह की विदाई आमतौर पर शहीद को दी जाती Read more…