ये बड़ा प्रमोशन है। हर प्रमोशन की तरह इसमें भी जिम्मेदारी, अधिकार सब बढ़ गए। हमारी बिटिया आ गई है। अभी इलाहाबाद में ही हूं। अभी सिर्फ तस्वीरें डाल रहा हूं


16 Comments

sushant jha · November 9, 2009 at 8:47 am

बधाई स्वीकार करें। जब नाम रखें तो जरुर पोस्ट डालें। जच्चा-बच्चा के स्वास्थ्य की शुभकामनाएं!

संजय बेंगाणी · November 9, 2009 at 9:04 am

आप भाग्यशाली है. बेटी के बाप बने है. बहुत बहुत बधाई स्वीकारें.

काजल कुमार Kajal Kumar · November 9, 2009 at 11:57 am

बहुत शुभकामनाएं. बच्ची मंगलमय जीवन बिताये व परिवार को खुशियों से भर दे.

प्रवीण त्रिवेदी ╬ PRAVEEN TRIVEDI · November 9, 2009 at 4:36 pm

बहुत बहुत शुभकामनाएं!!!

स्वप्नदर्शी · November 9, 2009 at 5:58 pm

congratulations to proud parents!

Udan Tashtari · November 9, 2009 at 6:30 pm

बहुत बहुत बधाई हो जी!! तुरंत बिटिया रानी का ब्लॉग बनवाया जाये … 🙂

विनीत कुमार · November 9, 2009 at 8:46 pm

बहुत-बहुत बधाई..

Pramod Singh · November 9, 2009 at 9:02 pm

आ गई है? गई कहां थी? बड़ी थकी-थकी लग रही है बिचारी. आखिरी फोटू में तो रो रही है? मामला क्‍या है? कहां फंसी कहां है?

अजय कुमार झा · November 10, 2009 at 1:38 am

बहुत बहुत बधाई हो जी ..अब खूब जम कर बिटिया की सेवा किजीये और उडन जी की सलाह पर गौर फ़रमाईये …

MANOJ KUMAR · November 10, 2009 at 2:09 am

बहुत-बहुत बधाई।

गिरिजेश राव · November 10, 2009 at 2:33 am

बधाई जी।
बिटिया तो गुलाबी रुई के फाहे बम्बइया मिठाई सी दिख रही है।
एक मिठाई वाली पोस्ट लिखिए।

shaishav · November 10, 2009 at 3:33 am

आप दोनों को हार्दिक शुभ कामनाएं ।
सप्रेम

प्रबुद्ध · November 10, 2009 at 6:06 am

बधाई स्वीकार करें। तो सबसे कम उम्र ब्लॉगर कब आ रही है!!!

मृगेंद्र पांडेय · November 10, 2009 at 3:59 pm

बधाई हॊ भाई साहब आप की खुशी में हम भी शामिल हॊ गए। इलाहाबाद तॊ नहीं आ सकते जयपुर से ही सही।

प्रदीप कुमार · November 10, 2009 at 4:00 pm

अद्वितीय सुंदर प्यारी सी बिटिया के आगमन पर बधाई। आप दोनों को एक और बधाई हमें चाचा बनाने की भी।

vimal verma · November 18, 2009 at 9:36 am

कितनी तो सलोनी लग रही है..बधाई स्वीकार करें….

Comments are closed.

Related Posts

राजनीति

बुद्धिजीवी कौन है?

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के बुद्धिजीवियों को भाजपा विरोधी बताने के बाद ये सवाल चर्चा में आ गया है कि क्या बुद्धिजीवी एक खास विचार के ही हैं। मेरी नजर में बुद्धिजीवी की बड़ी सीधी Read more…

राजनीति

स्वतंत्र पत्रकारों के लिए जगह कहां बची है?

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुद्धिजीवियों पर ये आरोप लगाकर नई बहस छेड़ दी है कि बुद्धिजीवी बीजेपी के खिलाफ हैं। मेरा मानना है कि दरअसल लम्बे समय से पत्रकार और बुद्धिजीवी होने के खांचे Read more…

अखबार में

हत्या में सम्मान की राजनीति की उस्ताद कांग्रेस

गौरी लंकेश को कर्नाटक सरकार ने पूरे राजकीय सम्मान के साथ अन्तिम विदाई दी। गौरी लंकेश को राजकीय सम्मान दिया गया और सलामी दी गई। इस तरह की विदाई आमतौर पर शहीद को दी जाती Read more…