बतंगड़ ब्लॉग

देश के हर हिस्से को रण जैसे उत्सव की जरूरत

हिन्दुस्तान के हर हिस्से के पास अपना स्थानीय इतना खूबसूरत, इतना समृद्ध है कि, उसी से इलाके को समृद्ध किया जा सकता है। स्थानीय क्षमताओं के भरोसे बहुत कुछ हो सकता है। रण उत्सव में अपना यह भरोसा फिर से पक्का हुआ है कि, हिन्दुस्तान का हर कोना अपने में Read more…

By Harsh, ago
बतंगड़ ब्लॉग

परशुराम के वंशज सरफराज अयूब खत्री !

हिन्दुस्तान समझने के लिए सबसे बेहतर जरिया हिन्दुस्तान में रहना, आते-जाते रहना है। क्योंकि, हिन्दुस्तान विशाल है, इसलिए सिर्फ अपने आसपास को देख समझकर ही, समझ पूरी नहीं हो पाती है। इसका अहसास फिर से हुआ, जब मैं रण उत्सव में शामिल होने के लिए टेन्टसिटी में रहा। यहां बांधेज Read more…

By Harsh, ago