बतंगड़ ब्लॉग

नियति और नियन्ता

ईश्वरीय सत्ता को लेकर हमेशा मैं भ्रम में रहता हूं। इसकी शायद सबसे बड़ी वजह उस सत्ता को लेकर धरती पर गजब का पाखण्ड होना है। लेकिन, नियति और नियन्ता कोई तो होगा ही। ऐसी घटनाएं जब होती हैं, तो मानना ही पड़ता है। कुकर फटा, उसके साथ चिमनी क्षत-विक्षत Read more…

By Harsh, ago