आज योगी आदित्यनाथ राम जन्मभूमि भी होकर आए। उससे पहले कल अयोध्या को दीपावली के लिए ऐसे चमकाया गया, जैसा हाल के वर्षों में कभी न हुआ। अवध नगरी में बरसों बाद समृद्धि दिखी। एक सकारात्मक पहल इस सरकार ने की है। राममंदिर पर अदालत का फैसला जब आएगा, तब आएगा। लेकिन, अयोध्या-फैजाबाद को देश का सबसे शानदार शहर बनाने से सरकार को भला किसने रोका है। राम से सीता (अयोध्या से मिथिला) तक ऐसा रास्ता तैयार किया जा सकता है कि देश के 2 सबसे दरिद्र प्रदेश- उत्तर प्रदेश और बिहार- में समृद्धि लाई जा सकती है।